कांग्रेसी लीडरों को डिच पर चड़ने की आदत

0
104

जालन्धर (मलिक)- महानगर में नगर निगम टीमों को लोगों के विरोध के साथ-साथ सत्ता पक्ष के नेताओं का भी विरोध झेलना पड़ता है। उपकार नगर में कारवाई करने गई निगम टीम ने जैसे ही अवैध बिल्ंिडग पर कारवाई की,
कारवाई के दौरान वार्ड न. 58 के पार्षद राजविन्द्र सिंह राजा ने टीम का विरोध करते हुए डिच पर चढ़ गया और हंगामा करने लगा। कारवाई करने गई टीम एटीपी रविन्द्र कुमार , इंस्पैक्टर पूजा मान, इंस्पैक्टर हरप्रीत कौर, इंस्पैक्टर निर्मल वर्मा ने बताया कि वह कई बार इस बिल्डिंग मालिक को नोटिस दे चुके थे लेकिन बिल्डिंग मालिक आंखों में धूल झोंकते हुए कभी काम बंद कर देता था। आज जो इस बिल्डिंग पर कारवाई बनती थी वह कर दी गई है।
महानगर में निगम में अलग-अलग तरह के कानून चलते है, महानगर में कहीं न कहीं कारवाई करने गई टीम को लोगों के विरोध के साथ-साथ सत्ता पक्ष के लोगों का भी सामना करना पड़ता है। निगम मुलाजिम यहां तो कांग्रेस पार्टी की बात आती है तो वहां पर वह चुपी साध लेते हैं। अगर किसी ओर पार्टी के नेता या जनता ने विरोध किया हो तो उस पर सीधे-सीधे तौर पर कारवाई करने के आदेश जारी हो जाते है। गत दिवस फगवाड़ा गेट के निकट इंस्पैक्टर दिनेश जोशी का विरोध पूर्व मेयर सुरेश सहगल ने किया था तो उस पर कारवाई का डंडा चल गया। इसी तरह कुछ दिन पहले गाजी गुल्ला रोड पर साईं रसोई रैस्टोरैंट पर निगम का डंडा चला तो विरोध करने पर उन्हें भी कानून के शिकंजे में ले लिया।
महानगर में कई बार राजनेताओं ने निगम अधिकारियों का विरोध किया लेकिन किसी भी कांग्रेसी नेता पर न तो कोई कारवाई की गई और न ही उनके खिलाफ कोई शिकायत दर्ज नहीं हुई, जिसका फायदा आज फिर एक कांग्रेसी पार्षद राजविन्द्र सिंह राजा को मिला। नगर निगम टीम द्वारा कारवाई में बाधा डाली।

LEAVE A REPLY