अन्‍ना का अल्‍टीमेटम: छह माह के अंदर लोकपाल नहीं आया तो होगा महाआंदोलन

0
155

नई दिल्ली । रामलीला मैदान में अनशन टूट जाने के बाद अन्ना हजारे ने आंदोलनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने ड्राफ्ट में सभी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया है। अगर छह महीने के अंदर सरकार ऐसा नहीं करती है, तो फिर से अनशन पर बैठेंगे। सरकार ने उनकी ज्यादातर मांगों पर सहमति जताई है। सरकार का काम देश की जनता की भलाई करना होता है। ऐसे आंदोलन की नौबत नहीं आनी चाहिए।

बता दें कि अन्ना 23 मार्च से अनशन पर बैठे हुए थे। बीते तीन दिनों से केंद्र सरकार और अन्ना के बीच बातचीत जारी थी। केंद्र सरकार की तरफ से महाराष्ट्र सरकार के जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने अन्ना से दो बार मुलाकात की थी।

अन्ना के साथ सशक्त लोकपाल, चुनाव सुधार प्रक्रिया और कृषि मूल्य आयोग के मुद्दे पर बातचीत बीच में विफल हो गई थी, लेकिन एक बार फिर से बातचीत शुरू हुई। अन्ना सभी मांगों को निश्चित समयसीमा के अंदर पूरा करने की मांग पर अड़े थे। वहीं अन्ना को समर्थन देने के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता शांति भूषण और करणी सेना के अध्यक्ष लोकेंद्र सिंह कालवी भी पहुंचे।

LEAVE A REPLY