प्रेस क्लब आफ शिमला में पत्रकार कल्याण कोष गठित

0
306

क्लब के सदस्यों के साथ अनहोनी घटना होने पर मिलेगी फौरी राहत
कोष की राशि का किसी और गतिविधि में नहीं होगा उपयोग
3 लाख की राशि से हुआ कोष का गठन, प्रत्येक सदस्य को देना होगा अंशदान
शिमला।  बीते दिनों वरिष्ठ पत्रकार सुनील शर्मा के आकस्मिक निधन के बाद इस तरह की अनहोनी को देखते हुए प्रेस क्लब ऑफ शिमला ने नए पत्रकार कल्याण कोष का गठन किया है। कोष को प्रारंभ करने के लिए प्रेस क्लब आफ शिमला ने तीन लाख की राशि कोष में जमा करने का निर्णय लिया है। वित्तीय साल 2018-19 से गठित होने वाले इस कोष में क्लब के प्रत्येक साधारण सदस्य को भी हर साल एक हजार रुपए का अंशदान करना होगा। अस्थायी सदस्यों के साथ साथ सरकारी सेवा में कार्यरत सदस्य कोष के दायरे से बाहर होंगे। भविष्य में क्लब के किसी साधारण सदस्य के साथ मृत्यु जैसी अनहोनी होने पर क्लब उसके परिवार को कौष के फौरी राहत के तौर पर 50 हजार रुपए की राशि प्रदान करेगा। शिमला क्लब की संचालन समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में क्लब के कई सदस्यों ने बतौर विशेष आमंत्रित सदस्य के तौर पर भी हिस्सा लिया। बैठक की अध्यक्षता क्लब केे अध्यक्ष धनंजय शर्मा ने की। इस बैठक में क्लब के पदाधिकारियों में महासचिव अनिल हैडली, उपाध्यक्ष प्रतिभा कंवर, कोषाध्यक्ष पंकज राक्टा व सदस्य उज्जवल, रमन, विकास, अलावा विशेषाआमंत्रित सदस्यों में संजीव शर्मा, आनंद बौद्ध, देवेंद्र वर्मा, हिम किरण मंाटा, उमेश शर्मा, लियाकत अली, उमेश शर्मा, चमन और गुलवंत भी उपस्थित रहे। इस दौरान सभी सदस्यों ने एक मत से कॉप्र्स फंड की आज से स्थापना करने का निर्णय लिया। बैठक में संचालन परिषद ने निर्णय लिया कि अभी फिलहाल ऐसी परिस्थिती 50 हजार रुपए की राशी मुहैया करवाई जाएगी, लेकिन भविष्य में कोष में अधिक राशि एकत्र होने पर संचालन परिषद अपने विवेक से राहत राशि को बढ़ाने का फैसला भी ले सकती है। बैठक में निर्णय लिया गया कि यदि कोई सदस्य किसी कारण वश गंभीर बिमारी की चपेट में आता है तो ऐसी परिस्थितियों में भी क्लब ऐसे सदस्य को सहायता मुहैया करवाने पर सहमती जताई। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि विशेष परिस्थितियों में शिमला में कार्यरत किसी ऐसे पत्रकार जो क्लब का सदस्य भी ना हो उसकी आकस्मिक मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को इस फंड से 10 हजार रुपए की फौरी दी जाएगी। बैठक में इसके अलावा यह निर्णय लिया गया कि सभी सदस्य अपनी सदस्यता के नवीनीकरण शुल्क के साथ इस राशी को जमा करेंगे। क्लब के वरिष्ठ सदस्यों को भी इस फंड में सालाना 1 हजार रुपए जमा करवाना होगा। कोष से राहत के लिए क्लब में सालों से कार्यरत कर्मचारियों को भी शामिल किया गया है।

LEAVE A REPLY